Essay on Dussehra in Hindi

दशहरा पर निबंध हिंदी में | Essay on Dussehra in Hindi

दशहरा पर निबंध हिंदी में ( Essay on Dussehra in Hindi ) – कक्षा 1, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9, 10, 11 और 12 के बच्चों और विद्यार्थियों के लिए दशहरा पर निबंध हिंदी में।

Essay on Dussehra in Hindi

Essay on Dussehra in Hindi
Dussehra Essay in Hindi

दशहरा एक बहुत ही महत्वपूर्ण हिन्दू त्यौहार है जो पूरे भारत के लोगों के द्वारा हर साल बेहद हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है। दशहरा को लोग विजयदशमी के नाम से भी जानते हैं। यह त्योहार अशिवन महीने के शुक्ल पक्ष में दस दिनों तक मनाया जाता है। भगवान राम ने इसी दिन रावण का वध किया था तथा देवी दुर्गा ने नौ रात तथा दस दिन के युद्ध के उपरांत महिषासुर पर विजय प्राप्त किया था। दशहरा को असत्य पर सत्य की विजय के रूप में मनाया जाता है। इसलिए इसे विजयादशमी के नाम से भी जाना जाता है।

दशहरा त्यौहार को कई सारे रीति-रिवाज और पूजा-पाठ के द्वारा मनाया जाता है। कुछ लोग देवी दुर्गा का आशीर्वाद पाने के लिये पूरे नौ दिन तक व्रत रखते है। पं.बंगाल, बिहार, झारखंड आदि राज्यों में महिषासुर और माँ दुर्गा की प्रतिमा स्थापित कर उनकी पूजा – अर्चना की जाती है। पुरे नौ दिनों तक दुर्गासप्तशती का पाठ चलता है। पूजा होने के बाद लोगों को प्रसाद वितरित किया जाता है और साथ में लंगर चलाने का कार्यक्रम भी किया जाता है। इसके अलावा कई जगहों पर 7 दिन या महीनों तक रामलीला का आयोजन किया जाता है। दुर्गा माता की मूर्ति की स्थापना कर पूजा करने वाले उनके भक्त दुर्गा माँ का मूर्ति-विसर्जन का कार्यक्रम भी गाज-बाजे के साथ करत है।

दशहरा के उत्सव पर स्कूल, कॉलेज और कार्यालय में कुछ दिनों के लिए छुट्टी मिल जाती है। लोग इस पर्व को ढेर सारी खुशी और उत्साह के साथ मनाते हैं। पूरे देश में रावण, कुम्भकर्ण और मेघनाथ का पुतला जलाने के साथ ही इस उत्सव का दसवा दिन मनाया जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *