साइकिल चोरी होने पर पत्र | Cycle Cycle Chori Hone Par Police Adhikari Ko Patra

एक पत्र अपने स्थानीय थानेदार को लिखें जिसमें साईकल चोरी होने की सूचना दी गई हो।

Cycle Chori Hone Par Police Adhikari Ko Patra

साइकिल चोरी होने पर पत्र

सेवा में,

             स्टेशन हाऊस आफिसर,
             पुलिस डिवीजन नम्बर 3,
             जींद शहर।

    विषय : साईकल चोरी

मान्य महोदय,

            मैं लखन बुक डिपो मोरा गेट, जींद से किताब लेने के लिए आज दस बजकर 46 मिनट पर अपना साईकल खड़ा करके भीतर गया। साईकल का ताला भी ठीक था। 10 बजकर 55 मिनट पर बाहर आया तो देखा कि साईकल बाहर नहीं था।


            इधर-उधर पूछताछ करने पर भी साईकल नहीं मिल सका। इस समय 11 बज कर 22 मिनट हुए हैं और आपकी सेवा में यह रिपोर्ट भेज रहा हूं। मेरा साईकल नया है। अभी लिए दो मास ही हुए है। साईकल ‘एटलस’ ब्रांड का हरे रंग का है। मुझे आशा ही नहीं, दृढ़ विश्वास है कि आप सतर्कता से मेरा साईकल ढूंढवा कर दिलवा देंगे। आपकी कृपा होगी।

भवदीय,

देवेन्द्र सहगल,
595-आर, माडल टाऊन, जींद।

3-10-19….