दोस्ती पर निबंध | Essay on Friendship in Hindi

दोस्ती पर निबंध – Essay on Friendship in Hindi – कक्षा 1, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9, 10, 11 और 12 के बच्चों और कॉलेज के विद्यार्थियों के लिए (Friendship Essay in Hindi – दोस्ती पर निबंध) हिंदी में।

Essay on Friendship in Hindi – दोस्ती पर निबंध

Essay on Friendship in Hindi
दोस्ती पर निबंध

Essay on Friendship in Hindi 150 Words

विचार-बिंदु – • किसी उक्ति का उल्लेख • सच्चा मित्र-दुख का साथी • सुख में भी साथी • मित्र हमारे लिए प्रेरक और मार्गदर्शक • निराशा में हिम्मत देने वाला • भटकने पर रास्ता दिखाने वाला • मित्र-एक शक्तिवर्धक औषध।

गोस्वामी तुलसीदास ने सच्चे मित्र के बारे में कहा है –

जे न मित्र दुख होहिं दुखारी। तिन्हहिं बिलोकत पातक भारी।
निज दुख गिरिसम रज करि जाना। मित्रक दुख-रज मेरू समाना।

सच्चा मित्र वही है जो मित्र के दुख में काम आता है। वह मित्र के कण जैसे दुख को भी मेरू के समान भारी मानकर उसकी सहायता करता है। मित्र सुख-दुख का साथी है। वह केवल दुख में ही नहीं, सुख में भी साथ देता है। मित्र के होने भर से हमारे सुख के क्षण रंगीन हो उठते हैं। कोई भी खुशी, पार्टी या महफिल मित्रों के बिना नहीं जमती। सच्चा मित्र हमारे लिए प्रेरक, सहायक और मार्गदर्शक का काम करता है। जब भी हम निराश होते हैं, मित्र हमारी हिम्मत बढाता है। जब हम परास्त होते हैं, वह उत्साह देता है। जब हम शिथिल होते हैं, वह प्रेरणा देता है। जब हम रास्ता भूलते हैं, वह मार्गदर्शन करता है। सच्चा मित्र हमारे लिए शक्तिवर्धक औषधि बनकर सामने आता है। सच्चा मित्र हमें पथभ्रष्ट होने से भी बचाता है और सन्मार्ग पर भी अग्रसर करता है। सच्ची मित्रता सचमुच वरदान है।

Essay on Friendship in Hindi 200 Words

मित्रता जीवन के सबसे मूल्यवान सम्बन्ध है। वास्तविक दोस्ती दो या दो से अधिक का रिश्ता है जो एक दूसरे पर भरोसा करते हैं और बदले में कुछ भी उम्मीद नहीं करते हैं। लोग जो दोस्ती करना पसंद करते है उन्हें उम्र, जाति से कोई फर्क नही पड़ता। दोस्तों को ध्यान से चुना जाना चाहिए, क्योंकि अच्छे दोस्त हमें अच्छे रास्ते पर ले जाते हैं, जबकि बुरे दोस्त हमें गलत रास्ते पर ले जाकर हमारे जीवन को खराब कर सकते है। हमारे अपने बुरे समय में अच्छे व बुरे दोस्तों का पता चलता है। दोस्ती कई तरह से प्रभावित हो सकती हैं जैसे लतफहमी से भी दोस्ती टूट सकती है।

सच्चे दोस्त कभी अपने दोस्त को नही छोड़ते हैं और उसे एक अच्छा इंसान बनने की प्ररेणा देते रहते हैं। आज के दिनों में सच्चा दोस्त ढूंढना बडा मुश्किल होता है। सच्चे दोस्तों में कोई खून का रिश्ता नहीं होता हैं लेकिन उनकी दोस्ती खून के रिश्ते से बढ़कर होती है। दोस्त दुनिया को सुंदर बनाते हैं। दोस्ती के बिना जीवन की कल्पना करना भी मुश्किल है।

हम आशा करते हैं कि आप इस पत्र ( Essay on Friendship in Hindi – दोस्ती पर निबंध ) को पसंद करेंगे।

Share this :

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *