पुस्तक मंगाने के लिए प्रकाशक को पत्र | Pustak Mangwane Ke Liye Patra

मान लो आपका नाम मोहन कुमार है। आप 20, नेहरू पार्क नाभा में रहते हैं। चंडीगढ़ के प्रकाशक-अमन बुक स्टोर से आप कुछ पुस्तकें मंगवाना चाहते हैं। इस समय में आप उन्हें पत्र लिखिए। Pustak Mangwane Ke Liye Patra | पुस्तक मंगाने के लिए प्रकाशक को पत्र.

Pustak Mangwane Ke Liye Patra

पुस्तक मंगाने के लिए प्रकाशक को पत्र

20, नेहरू पार्क,
नाभा,
1 जनवरी, 19..

सेवा में,

          व्यवस्थापक जी
          अमन बुक स्टोर
          चंडीगढ़।

महोदय,

          कृपया मेरे इस पत्र को प्राप्त करते ही वी. पी. पी. द्वारा निम्नलिखित पुस्तकें उपरोक्त पते पर शीघ्र भेज दें। पुस्तकें बांधते समय इस बात का ध्यान अवश्य रखिए कि पुस्तकें फटी न हों तथा उनके पृष्ठ आदि ठीक हों और क्रम से लगे हों। क्योंकि कई बार देखा गया है कि पुस्तकों के पृष्ठ ठीक नहीं जुड़े होते हैं और उससे पुस्तकें शीघ्र ही फट जाती हैं। विद्यार्थियों के लिए आप जो कमीशन देते हैं, उसे काटकर वी. पी. पी. भेजने की कृपा करें।
           * मेरे निबंध – 5 प्रतियां
           * लोको-पोको हिंदी गाइड – 5 प्रतियां
           * हिंदी गाइड कक्षा 9 – 2 प्रतियां
           * कहानियो का भंडार – 2 प्रतियां

                                            धन्यवाद।

भवदीय
मोहन कुमार

प्रकाशक,
अमन बुक स्टोर
चंडीगढ़।