नारी शिक्षा पर भाषण Speech on Female Education in Hindi – Speech on Women Education in Hindi

आज हम आपके साथ साँझा करने आए है – “महिला शिक्षा पर भाषण”, “नारी शिक्षा पर भाषण”, “स्त्री शिक्षा पर भाषण”. Today we are sharing information about speech on Female Education in Hindi. Many people are searching for speech on Female Education in Hindi. So we decided to share speech on Women Education in Hindi. After reading this speech on Female Education in Hindi, you will understand the importance of Female Education speech in Hindi. Read नारी शिक्षा पर भाषण speech on Female Education in Hindi for students of class 1, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9, 10, 11, 12 and college students.

Speech on Female Education in Hindi

शिक्षा जीवन जीने का एक अनिवार्य हिस्सा है, चाहे वह लड़का हो या लड़की हो। लोग आमतौर पर सोचते हैं कि एक लड़की को घर के काम में उतना योगदान उनकी शिक्षा से अधिक मूल्यवान है। पहले के समय में लड़कियों की शिक्षा को कभी भी आवश्यक नहीं माना गया था, लेकिन समय गुजरने के साथ लोगों ने लड़कियों की शिक्षा का महत्व महसूस किया है। महिलाओं को शिक्षित बनाना महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा देना है। शिक्षित महिलाएं स्वस्थ होती हैं और उन में भरपूर आत्मसम्मान और आत्मविश्वास होता है। आर्थिक संकट के युग में लड़कियों के लिए शिक्षा एक वरदान है। एक लड़की को शिक्षित करना उतना ही महत्वपूर्ण है जितना कि लड़के को शिक्षित करना। एक आदमी को शिक्षित करके हम केवल एक व्यक्ति को शिक्षित करते हैं लेकिन अगर हम एक महिला को शिक्षित करते हैं, तो हम पूरे परिवार को शिक्षित करते है।

आज की लड़कियों ने अच्छी तरह से व्यवसाय के क्षेत्र में योगदान दिया है और अपने घर और कार्यालय दोनों को बहुत अच्छी तरह से संभाला है। जब भी एक लड़की को अपनी क्षमता साबित करने का मौका मिला है, तो उसने हमेशा खुद को साबित किया है। एक शिक्षित लड़की की अगर कम उम्र में शादी नहीं की गई तो वह लेखक, शिक्षक, वकील, डॉक्टर और वैज्ञानिक के रूप में देश की सेवा कर सकती है। शादी के बाद अगर एक शिक्षक लड़की काम करती है तो वह अपने पति के साथ परिवार के खर्चों को पूरा करने में मदद कर सकती है। शिक्षित महिलाओं को घरेलू या यौन हिंसा के शिकार होने की संभावना कम होती है। शिक्षा महिलाओं के सोच के दायरे को भी बढ़ाती है, जिससे वह अपने बच्चों की परवरिश अच्छे से कर सकती है। महिला के अधिकारों की रक्षा में शिक्षा सबसे महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। बेहतर अर्थव्यवस्था और बेहतर समाज लड़कियों की शिक्षा का ही नतीजा है। शिक्षित महिला बिना किसी संदेह के अपने परिवार को अधिक कुशलता से संभाल सकती है।

हम देश की महिलाओं को शिक्षित किए बिना एक विकसित राष्ट्र नहीं बन सकते। लड़कियों के पास प्रत्येक क्षेत्र में अपने देश का नेतृत्व करने की क्षमता है। तीन भूमिका प्रमुख हैं जो अपने जीवन के दौरान महिलाएं निभाती हैं – बेटी, पत्नी और मां। इन महत्वपूर्ण कर्तव्य निभाने के लिए उनकी शिक्षा इस तरह से होनी चाहिए कि वह अपने कर्तव्य को उचित तरीके से पूरा करने में सक्षम हो सकें। सबसे अच्छी बात यह है कि हमारे प्रधानमंत्री ने बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान के माध्यम से लड़कियों की शिक्षा के लिए एक बहुत अच्छी पहल की है।

So this is our speech on Women Education in Hindi or speech on importance of female education. Don’t forget to comment “How much you like speech on Female Education in Hindi.”

अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए अपनी Hindi in Hindi website के फेसबुक पेज को लाइक करे।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *