Essay on Zindagi Zinda dili Ka Naam Hai in Hindi

Essay on Zindagi Zinda dili Ka Naam Hai in Hindi for students of class 1, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9, 10, 11 and 12. जिंदगी जिंदादिली का नाम है पर निबंध।

hindiinhindi Zindagi Zinda dili Ka Naam Hai in Hindi

Essay on Zindagi Zinda dili Ka Naam Hai in Hindi

विचार-बिंदु – • सूक्ति • जिंदगी जिंदादिली का नाम है, मुर्दादिली क्या खाक जिया करते हैं • हिम्मत और उत्साह जीवन की निशानी • संघर्षशील जीवन उत्सव-सा • नया जोश, नई चुनौती • ग्लानि नहीं • आत्मसंतोष और हर्ष • किसी जिंदादिल व्यक्ति का उदाहरण।

जीवन का अर्थ – जोश, उत्साह, हिम्मत और जिंदादिली। कहते हैं – जिंदगी जिंदादिली का नाम है। मुर्दादिल क्या खाक जिया करते हैं। हलचल, हिम्मत, साहस जीवन की निशानी है। जो लोग हर क्षण उत्साह की तरंग में रहते हैं, उनकी जीवन जीने की शैली मनोरम होती है। जो जीवन के हर खतरे को चुनौती समझकर झेलते हैं, उनका जीवन उत्सव-जैसा बन जाता है। उन्हें हर क्षण नया काम मिला रहता है। वे अपने मन में स्फूर्ति और नवीनता का अनुभव करते हैं।

वे कभी मन में निराशा और ग्लानि अनुभव नहीं करते। बल्कि उन्हें खतरों से जूझते हुए भी एक हर्ष और संतोष प्राप्त होता है। सुभाषचंद्र बोस ने जिंदादिली से जीवन जिया, इसलिए उनके जीवन का क्षण-क्षण प्रेरणामय बन गया। इसके विपरीत कायर, आलसी और निकम्मे लोग हर रोज कई बार मरते हैं। उन्हें पग-पग पर अपमान सहना पड़ता है। यदि मनुष्य यह सोच ले कि उसे एक-न-एक दिन मरना ही है तो वह खुलकर जिएगा, हिम्मत से जिएगा। एक कवि ने कहा भी है – एक दिन भी जी, मगर तू ताज बनकर जी।

More Hindi Essay

Chandi Ki Chabi Story in Hindi

Thank you for reading. Don’t forget to write your review.

अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करे।

Share this :

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *